भारत माता के जयकारों के बीच अपने वतन पहुंचे देश के हीरो का किया देशवासियों ने पलकें बिछाकर "अभिनन्दन"

वैन (अटारी बॉर्डर संवाददाता) :: गाहे-बगाहे जिस ख़बर पर भारत की ही नहीं अपितु दुनिया की नजरें लगी थी वो अब समाप्त हो गई है और पाकिस्तानी जहाजों से लोहा लेते हुए मिग 21 क्रैश होने पर पाकिस्तानी सीमा में पहुंचे भारतीय वायुसेना के वीर विंग कमांडर "अभिनन्दन" अपने वतन वापस पहुंच गए हैं। आज सुबह से चला भारत के वीर की वापसी का सिलसिला शाम ढलते-ढलते पूरा हुआ। पहले अंदाजा लगाया था कि "अभिनन्दन" की वापसी दोपहर 12 के आसपास हो जायेगी लेकिन वह बढ़ते-बढ़ते शाम तक पहुंच गई। इसे पाकिस्तान का ढीला या गैर-जिम्मेदाराना रवैया ही कहा जाएगा जो कि भारतीय जांबाज को अपनी कठपुतली बना नचा रहा है।

खैर, कहते हैं, देर आये-दुरुस्त आये और यह मुहावरा आज यहां वाघा-अटारी बॉर्डर पर आज सिद्ध हो गया।

अब भारतीय जांबाज विंग कमांडर "अभिनन्दन" को सड़क के रास्ते अमृतसर के राजा सांसी हवाईअड्डे तक ले जाया जायेगा जहां से इस जवान को एयरलिफ्ट कर दिल्ली पहुंचाया जायेगा।

उधर इस पूरे घटनाक्रम से पहले एक नया पैंतरा अपनाते हुए पाकिस्तान ने "अभिनन्दन" को उनकी बीटिंग रिट्रीट के बाद भारतीय सीमा में आने देने की बात कह भारतीयों की चिंता बढ़ा दी थी। "अभिनन्दन" के काफिले के साथ अंतर्राष्ट्रीय मीडिया और रेड क्रॉस के अधिकारी भी थे। माना यह जा रहा था कि पाकिस्तान पूरी सेरेमनी की कठपुतली भारतीय विंग कमांडर "अभिनन्दन" को बनाना चाहता था और अपने वतनवासियों को दिखाना चाहता था कि कौन भारतीय वीर हमने गिरफ्तार किया था और अब पहल करते हुए उसको भारत को सौंप रहे हैं।

Responses

Hats off to our HERO

  • 02 March 2019 12:08
  • Ajay

Jai hind hamare Babar shear

  • 02 March 2019 07:36
  • Ajeet kumar

Super man and hero

  • 01 March 2019 23:07
  • Prince Mehta

Leave your comment