‘महाशिवरात्रि’ निमित्त अध्यात्म विषयक ग्रंथ प्रदर्शनियां और जाल-स्थल पर भी श्रद्धालुओं के लिए ग्रंथ उपलब्ध !

दिल्ली ब्यूरो :: ‘महाशिवरात्रि’ को शिवतत्त्व अन्य समय की तुलना में हजार गुना अधिक कार्यरत होता है । इस दिन भगवान शिवजी की उपासना जितनी अधिक करते हैं, उपासक को आध्यात्मिक स्तर पर उतना अधिक लाभ होता है । इस अनुषंग से शिवजी की उपासना सहित विभिन्न विषयों पर श्रद्धालुओं को शास्त्रीय जानकारी मिलने की दृष्टि से महाशिवरात्रि निमित्त 11 मार्च को सनातन संस्था द्वारा देश के अनेक राज्यों में विशेष ग्रंथप्रदर्शनी कक्ष लगाए जानेवाले हैं । दिल्ली – एन. सी. आर. व मथुरा में भी कुल 06 स्थानों पर इन ग्रंथप्रदर्शनियों का आयोजन किया गया है । ‘कोरोना की पृष्ठभूमि पर शासकीय नियमों का पालन कर आपके क्षेत्र में सनातन संस्था की ग्रंथ प्रदर्शनी कक्षों का अवलोकन कर भगवान शिवजी तथा अन्य विभिन्न विषयों पर धर्मशास्त्रीय जानकारी प्राप्त करें तथा आध्यात्मिक स्तर पर महाशिवरात्रि का लाभ उठाएं’, ऐसा आवाहन सनातन संस्था द्वारा किया गया है । उसी प्रकार इस निमित्त अध्यात्म, धर्म, आयुर्वेद, राष्ट्ररक्षा आदि अनेक विषयों के ग्रंथ सनातन संस्था के जालस्थल पर विक्रय के लिए उपलब्ध हैं, यह भी सनातन संस्था द्वारा प्रकाशित प्रसिद्धीपत्रक में कहा गया है ।

‘शिवरात्रि को शिवपिंडी पर दूध का अभिषेक करने की अपेक्षा वह दूध गरीब को दें’, इस आशय का अभियान केवल हिन्दू त्यौहारों के समय कुछ तथाकथित आधुनिकतावादियों द्वारा कार्यान्वित किया जाता है । इस कुप्रचार की बलि न चढते हुए, भक्तिभाव से महाशिवरात्रि का उत्सव मनाएं, ऐसा आवाहन भी इस उत्सव के निमित्त सनातन संस्था द्वारा किया गया हैl

भगवान शिवजी का कार्य, शिवजी की उपासना का शास्त्र, शिवपिंडी को अर्धपरिक्रमा क्यों करते हैं ? शिवजी को बेलपत्र चढाने का महत्त्व, रुद्राक्ष का महत्त्व, ज्योतिर्लिंग के स्थान और उनका आध्यात्मिक महत्त्व आदि अमूल्य ज्ञान सनातन के इस कक्ष पर ग्रंथरूप में उपलब्ध होनेवाला है । शिवतत्त्व आकर्षित करनेवाली रंगोली की आकृतिवाला लघुग्रंथ ‘सात्त्विक रंगोलियां’ भी इस कक्ष पर उपलब्ध रहेगा । इस कक्ष में अध्यात्मविषयक ग्रंथोंसहित राष्ट्र, धर्म, आयुर्वेद, बालसंस्कार, आदि विभिन्न विषयों की ग्रंथसंपदा भी उपलब्ध रहेगी तथा गोमूत्र अर्क, जपमाला, सात्त्विक अगरबत्ती, भीमसेनी कर्पूर, सात्त्विक इत्र आदि पूजा में उपयोग किए जानेवाले सात्त्विक उत्पादन भी प्रदर्शनी कक्षों पर मिलेंगे । इससे संबंधित अधिक जानकारी के लिए *9990227769* इस दूरभाष क्रमांक पर अवश्य संपर्क करें ।

ग्रंथ कक्ष लगाए जानेवाले कुछ महत्त्वपूर्ण स्थान और समय !

*1.* सनातन धर्म मंदिर, S- ब्लाक, ग्रेटर कैलाश – II, नई दिल्ली समय : सुबह 9:30 से दोपहर 12:30 बजे तक

*2.* शिव शक्ति मंदिर, फेस 3, न्यू कोंडली, दिल्ली समय : सुबह 8:00 बजे से 12:00 बजे तक

*3.* शिव-शक्ति मंदिर, C-ब्लॉक, सेक्टर .122, नोएडा समय : सुबह 8:30 से 11:00 बजे तक

*4.* सनातन धर्म मंदिर, सेक्टर 19, नोएडा समय : सुबह 8:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक

*5.* एसआरएस रेजिडेंसी, सेक्टर 88, ग्रेटर फरीदाबाद समय : सुबह 8:00 से 12:00 बजे तक

*6.* गर्तेश्वर मंदिर, गोविंद नगर, मथुरा समय : शाम 5:30 से रात 10:30 बजे तक

*कु. कृतिका खत्री* सनातन संस्था, दिल्ली संपर्क क्र. 9990227769)

Responses

Leave your comment